August 6, 2023

लिंग किसे कहते हैं ? | लिंग की परिभाषा, लिंग के भेद और उदाहरण

नमस्कार, आज हम लिंग के बारें में विस्तार से पढ़ेंगे की लिंग किसे कहतें हैं? (Ling kise kahte hain?) लिंग के कितने भेद होतें हैं? (Ling Ke Kitne Bhed Hote Hain) और लिंग की परिभाषा क्या हैं? (Ling ki Paribhasha Kya Hain?) इत्यादि।

लिंग के बारे में पूरी जानकारी के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़े।

लिंग किसे कहते हैं ? लिंग की परिभाषा, लिंग के भेद और उदाहरण

लिंग किसे कहते हैं?

लिंग की परिभाषा: जिन शब्दों से किसी भी व्यक्ति, वस्तु आदि के स्री या पुरुष होने का पता चले उसे लिंग कहतें हैं। जैसे : लड़का, पेड़, घोड़ा इत्यादि शब्द पुरुष लिंग को दर्शाते हैं और लड़की, लता, गाय इत्यादि शब्द स्त्री लिंग को दर्शाते हैं।

संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण शब्द दोनो मे से किसी एक जाती को दर्शाते हैं पुरुष या स्त्री।

लिंग का अर्थ क्या होता हैं?

लिंग शब्द संस्कृत भाषा से हैं जिसका अर्थ “चिन्ह” होता हैं। ऐसा चिन्ह जिससे यह पहचाना जा सके के लिखा गया संज्ञा शब्द स्त्री जाती को दर्शाता हैं या पुरुष जाती को दर्शाता हैं उसे लिंग कहा जाता हैं।

इसे भी पढ़े : विलोम शब्द

लिंग के बारे में क्यों पढ़े?

अगर आप इस विषय को पहली बार पढ़ रहे हैं तो आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा के लिंग के बारे में जानकारी क्यों जरुरी हैं।

लिंग हिंदी व्याकरण का एक एहम हिस्सा हैं। इसके बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी हैं क्योंकि इस से आपको वक्यों को शुद्धता से लिखने व बोलने का पता चलता हैं। जैसे :

समझने के लिए हम “सीता” शब्द को ले लेते हैं। अगर आपको सीता का पता न हो की यह स्त्री जाती को दर्शाता हैं या पुरुष जाती को। तो आप सीता शब्द से बनने वाले वाक्यों को गलत लिख सकते हैं जैसे :

सीता फल खाता हैं। (गलत)

सीता फल खाती हैं। (सही)

लिंग के उदाहरण (Ling ke Udaharan)

स्त्रीलिंग – पुलिंग

शेरनी – शेरनी 

घोड़ी – घोड़ा 

लड़की – लकड़ा 

दादी – दादा 

लेखिका – लेखक 

शिष्या – शिष्य 

रानी – राजा 

मालिन – माली 

इसे भी पढ़े : पर्यायवाची शब्द

लिंग के कितने भेद होते हैं? (Ling Ke Kitne Bhed Hote Hain?)

हिंदी भाषा में लिंग के दो भेद हैं।

1. पुल्लिंग
2. स्त्रीलिंग

लिंग के भेद (Ling ke Prakar)

पुल्लिंग

पुल्लिंग : जिस संज्ञा शब्द से पुरुष जाती का बोध हो उसे पुल्लिंग कहते हैं। जैसे हाथी, शेर, लड़का, कुत्ता इत्यादि।

पुलिंग शब्द से वाक्य

कवि – रमेश एक अच्छा कवि हैं।
लेखक – लेखक अपनी कलम से किसी को भी प्रभावित कर सकता हैं।
समुद्र – समुद्र बहुत विशाल हैं।

स्त्रीलिंग

स्त्रीलिंग : जिस संज्ञा शब्द से स्त्री जाती का बोध हो उसे स्त्रीलिंग कहतें हैं। जैसे मोरनी, लड़की, शेरनी, घोड़ी इत्यादि।

स्त्रीलिंग से वाक्य 

मालिन – संध्या एक मालिन मालिन हैं। 

गायिका – सुमन एक अच्छी गायिका हैं। 

गुड़िया – लक्ष्मी को कुड़िया से खेलना बहुत अच्छा लगता हैं।

पुल्लिंग और स्त्रीलिंग के उदाहरण

पुल्लिंगस्त्रीलिंग
नायकनायिका
लेखकलेखिका
शिक्षकशिक्षिका
पुत्रपुत्री
युवकयुवती
मोरमोरनी
बेटाबेटी
बन्दरबन्दरिया
दादादादी
चाचाचाची

हिंदी भाषा में लिंग का निर्धारण

हिंदी भाषा में लिंग का निर्धारण 3 प्रकार से किया गया हैं। 

  1. बनावट के आधार पर 
  2. अर्थ के आधार पर 
  3. प्रयोग के आधार पर 

बनावट के आधार पर

शब्दों में प्रत्यय जोड़ कर पुलिंग और स्त्रीलिंग का निर्धारण किया जा सकता है।

पुलिंग शब्द

प्रत्यय – जिन शब्दों के अंत में आव, आवा, पा, पन, या खाना जुड़ा हो वो शब्द पुलिंग होते हैं। जैसे : दवाखाना, पागलखाना, जुड़ाव, बचपन, बुढ़ापा, जुड़ाव, बुलावा इत्यादि।

भाववाचक संज्ञा – जिन भाव वाचक संज्ञा के अंत में य, व, त्व और ता आता हो उन शब्दों को पुलिंग माना जाता हैं।  जैसे : पुरुस्तव, अपनत्व, गुरुत्व, कुशलता इत्यादि।

स्त्रीलिंग शब्द

प्रत्यय – जिन शब्दों के अंत में आहट, आवट, इया, इमा, ता और आई जुड़ा जो वो शब्द पुलिंग होते हैं।  जैसे : घबराहट, लिखावट, पढ़ाई, लिखाई, मित्रता इत्यादि।

आकारान्त या ईकारान्त – जिन शब्दों के अंत में आ या ई आता हो वो शब्द स्त्रीलिंग होते हैं। 

जैसे लता, कविता, चतुराई इत्यादि।

अर्थ के आधार पर

कुछ शब्दों का मतलब एक सा होता हैं लेकिन लिंग की दृष्टि से अलग अलग होते हैं। जैसे :

लेखक – लेखिका 

श्रीमान – श्रीमती 

शिष्य – शिष्या 

घोडा – घोड़ी 

दादा – दादी 

प्रयोग के आधार पर

प्रयोग के आधार पर लिंग का निर्धारण करने के लिए संज्ञा, सर्वनाम, कारक-चिन्ह और विशेषण को आधार बनाया जाता हैं।  जैसे :

राम अच्छा लड़का हैं।  (राम -पुल्लिंग)

सुमन अच्छी लड़की हैं।  (सुमन – स्त्रीलिंग)

यह सोहन की पुस्तक हैं।  ( पुस्तक – स्त्रीलिंग)

यह सोहन का पेन हैं।  (पेन – पुलिंग)

स्त्रीलिंग और पुल्लिंग शब्द की पहचान

जिन शब्दों के अंत में आता हो वो पुलिंग होते हैं और जिन शब्दों के अंत में इया आता हो वो स्त्रीलिंग होते हैं। जैसे :

बूढ़ा – बुढ़िया 

कुत्ता – कुतिया

जिन शब्दों के अंत में वान या मान होता हैं वो शब्द पुलिंग होते हैं और जिन शब्दों में वती या मती होता हैं वो स्त्रीलिंग होते हैं। जैसे :

गुणवान – गुणवती 

बुद्धिमान – बुद्धिमती 

बलवान – बलवती

जिन शब्दों के अंत में अक लगा हो वो पुलिंग होते हैं और जिन शब्दों के अंत में इका लगा हो वो शब्द स्त्रीलिंग होते हैं।  जैसे :

नायक – नायिका 

सेवक – सेविका 

लेखक – लेखिका

दिनों के नाम पुलिंग होते हैं। जैसे : सोमवार, मंगलवार, बुधवार इत्यादि।

महीनो के नाम पुलिंग होते हैं। जैसे : जनवरी, फरवरी, मार्च इत्यादि।

ग्रहों के नाम पुलिंग होते हैं। जैसे: मंगल, राहु, केतु इत्यादि। 

पर्वतों के नाम पुलिंग होते हैं। जैसे : हिमालय, विन्द्याचल, कैलाश इत्यादि। 

नदियों के नाम स्त्रीलिंग होते हैं। जैसे गंगा, जमुना, सतलुज, इत्यादि। 

तिथियों के नाम स्त्रीलिंग होतें हैं। तृतीया, चतुर्थी, पंचमीं इत्यादि। 

बोली, भाषा और लिपि के नाम स्त्रीलिंग होते हैं। जैसे : अरबी, फारसी, अंग्रेजी, हिंदी, देवनागरी इत्यादि।

स्त्रीलिंग और पुल्लिंग शब्द – 20 Ling Badlo

स्त्रीलिंग शब्दपुल्लिंग शब्द
अभिनेत्रीअभिनेता
इंद्राणीइंद्र
ऊँटनीऊंट
गुड़ियागुड़ा
चुहियाचूहा
छात्राछात्र
डिबियाडिब्बा
दर्ज़िनदर्ज़ी
बालिकाबालक
पहाड़ीपहाड़
गायिकागायक
नौकरानीनौकर
खटियाखाट
दासीदास
मालकिनमालिक
कुम्हारिनकुम्हार
कबूतरीकबूतर
बालाबाल
लुटियालोटा
प्रियतमाप्रियतम

लिंग से संबंधित प्रश्न और उत्तर (FAQ)

लिंग का अर्थ क्या होता है?

लिंग का अर्थ “चिन्ह” या “पहचान” होता हैं। जो संज्ञा शब्द किसी व्यक्ति, वस्तु आदि के पुरुष या स्त्री होने को दर्शाते हैं उसे लिंग कहते हैं।

स्त्रीलिंग और पुल्लिंग में क्या अंतर है?

जिन संज्ञा शब्द किसी स्त्री जाती को दर्शाते हैं उन्हें स्त्रीलिंग कहते हैं और जो शब्द पुरुष जाती जो दर्शाते हैं वो पुलिंग होते हैं। जैसे देवी स्त्री जाती को दर्शाता हैं और देवता पुरुष जाती को दर्शाता हैं।

स्त्रीलिंग के उदाहरण क्या है?

स्त्रीलिंग के उदाहरण : लता, सुमन, धोबन, सेविका, बाला, छात्रा इत्यादि हैं।

पुल्लिंग के उदाहरण क्या है?

पुलिंग के उदाहरण : सेवक, युवक, छात्र, गायक, अध्यापक, अभिनेता इत्यादि हैं।

कवि का स्त्रीलिंग क्या होता है?

कवि का स्त्रीलिंग कवयित्री होता हैं।

Hindi Vyakaran , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version